MSP Rate Of Soft Cotton: सरकार का किसानों के हित में बड़ा फैसला, नरमा-कपास की फसल MSP रेट पर खुद खरीदेगी सरकार

MSP Rate Of Soft Cotton:- सरकार का किसानों के हित में बड़ा फैसला, नरमा-कपास की फसल MSP रेट पर खुद खरीदेगी सरकार, किसान साथियों नरमा-कपास के भाव मार्केट में काफी कम मिल रहे हैं। यहां तक की देश की कुछ मंडियों में किसानों को इस साल नरमा की एमएसपी रेट से नीचे बेचने पड़े हैं। जिसके कारण किसानो को भाव में काफी नुकसान उठाना पड़ा। लेकिन अब किसानों को जूट कॉटन की फ़सल MSP Rate न्यूनतम समर्थन मूल्य से नीचे बेचने की कोई जरूरत नहीं है।

क्या है नरमा-कपास का MSP रेट?

आपको बता दे कि साल 2023 में किसानों की कॉटन की फ़सल काफी बरबाद हो गई थी। नरमा में सुंडी और अन्य बीमारियों के कारण उत्पादन काफी कम हुआ। उसके बाद जब किसान अपनी फसल को मंडियों में बेचने के लिए गए तो व्यापारियों द्वारा काफी आनाकानी देखने को मिली और व्यापारियों ने नरमा की फ़सल के भाव काफी कम दिए। किसानों को मजबूरी में अपनी फसल को बेचना पड़ा।

Read More: Mandsaur Today Mandi Bhav: लहसुन, गेहूँ, चना, सोयाबीन, प्याज, उड़द समेत सब अनाज के लेटेस्ट भाव

देश की कई मंडियों में किसानों को अपनी नरमा की फ़सल MSP Rate से नीचे बेचनी पड़ी। लेकिन अब किसानों को फ़सल एमएसपी रेट से बेचने की कोई जरूरत नहीं है। क्योंकि केंद्र सरकार ने किसानों के हक में अहम फैसला लिया है।

केंद्र सरकार खरीदेंगी नरमा की फ़सल MSP रेट पर

बता दे कि कल 7 मार्च को प्रधानमंत्री की मौजूदगी में कैबिनेट की बैठक हुई। इस दौरान किसानों के हक में कई अहम फैसले लिए गए। जूट का मिनिमम स्पोर्ट्स प्राइस एमएसपी 285 रुपए बढ़ाया गया है। 5050 रुपए से बद्दाकर 5335 रुपए किया गया है। केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल ने हाल ही में कहा है कि अगर मार्केट में किसी कारण से जूट तथा कपास के भाव MSP Rate से नीचे आ जाते हैं। ऐसी स्थिति में सरकार खुद किसानों से एमएसपी रेट पर खरीद करेगी।

Leave a Comment