Clove Cultivation: गरीबो का मसीहा बनी मसाले की खेती, बाजार में बिकता है 700 से 800 रूपये किलो, जाने खेती की सम्पूर्ण जानकारी

Clove Cultivation:- गरीबो का मसीहा बनी मसाले की खेती, बाजार में बिकता है 700 से 800 रूपये किलो, जाने खेती की सम्पूर्ण जानकारी, लौंग एक मसाला है इसका इस्तेमाल लोग सदियों से खाना पकाने और औषधीय प्रयोजनों के करते आ रहे है। लौंग के पेड़ की सूखी हुई कलियाँ हैं, जो उष्णकटिबंधीय जलवायु में उगता है। लौंग की खेती एक फायदेमंद व्यवसाय होता है, लेकिन इस खेती के लिए सावधानीपूर्वक योजना और निष्पादन की जरुरत होती है। आइए इसकी खेती के बारे में विस्तार से जाने।

लौंग की खेती के लिए जलवायु और मिट्टी कैसे चाहिए?

लौंग का पौधा उष्णकटिबंधीय जलवायु में पनपता हैं, यहां तापमान 20-30 डिग्री सेल्सियस के बीच में होता है। उनको अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी की जरुरत पड़ती है जो समृद्ध और अम्लीय होता है।

Read More: Chandu Chaiwala’s Wife: इंद्रलोक से आई अप्सरा लगती है चंदू चायवाले के पत्नी, हॉटनेस और फिटनेस में बॉलीवुड एक्ट्रेस को देती है कड़ी टक्कर

लौंग की रोपण कैसे करें?

लौंग के पेड़ को बीज या कलमों से लगा सकते हैं। लौंग को बीज से उगाने में कई सालों का समय लग सकता हैं, जिसके लिए कलमों का इस्तेमाल करना बहुत आम सी बात है। इन कलमों को एक स्वस्थ पेड़ से लिया जाता है और उनको मिट्टी में लगाया जाता है जहाँ वो जड़ें जमा सकते हैं।

लौंग की देखभाल कैसे करें?

इसके साथ ही लौंग के पेड़ों को रोजाना रूप से पानी, खाद और निराई की जरुरत होती है। उनको कीटों और रोगों से भी बचाने की जरुरत पड़ती है।

Read More: Redmi Note 13 Pro: Redmi ने मार्केट में उतारा 200MP वाला सस्ता और पॉवरफुल 5G Smartphone, कड़क फीचर्स के साथ देखे कीमत

लौंग की कटाई

लौंग की कलियों को हाथ से ही काटते है जब वह अच्छे से विकसित हो जाती हैं लेकिन वह अभी भी बंद होती हैं। कलियों को तब सुखाया जाता है जब तक कि वे भूरे रंग की न हो जाती है।

लौंग की उपज कितनी होगी?

लौंग का पेड़ साल 10-15 किलोग्राम लौंग का उत्पादन हो सकता है। लौंग एक बहुत ही मूल्यवान मसाला है इसकी बहुत ज्यादा मांग है। लौंग की खेती किसानों के लिए एक फायदेमंद व्यवसाय होता है।

Leave a Comment