Celery Cultivation: अजवाइन की खेती के जरिए किसान कमा सकते है लाखों रूपए, कम समय में तगड़ा मुनाफा, जाने खेती की सम्पूर्ण जानकारी

Celery Cultivation:- अजवाइन की खेती के जरिए किसान कमा सकते है लाखों रूपए, कम समय में तगड़ा मुनाफा, जाने खेती की सम्पूर्ण जानकारी, आप भी व्यवसायिक खेती कर लाभ कमाने की इच्छा रखते है तो अजवाइन की खेती फायदे का सौदा हो सकता है। अजवाइन का उपयोग सब रसोई में खाने की वस्तुओं में मसाले के रूप में किया जाता है। अजवाइन में औषधीय महत्व भी है। अजवाइन की बाजार मांग हमेशा रहती है। आइए इसके बारे में विस्तार से जानते है।

अजवाइन की खेती का सही समय

अजवाइन की खेती रबी सीजन यानि कि सर्दियों के मौसम में करते है। अजवाइन की खेती की सबसे खास बात यह है की अजवाइन की खेती में सिंचाई की कम जरुरत पड़ती है।

Read More: Yamaha RX 100: फ़िर से लाखों दिलों में धड़कने आएगी भारत के जवादिलो की पसंद स्पोर्ट्स बाइक, जाने कब होने जा रही लॉन्च

अजवाइन की खेती के लिए मिट्टी, जलवायु और तापमान कितना होना चाहिए

अजवाइन की खेती करने के लिए अच्छी जल निकासी वाली उपजाऊ मिट्टी होना आवश्यक होता है। अधिक पैदावार के लिए बलुई दोमट मिट्टी में अजवाइन की खेती को करना चाहिए। ज्यादा नमी तथा जल भराव वाले भूमि पर अजवाइन की खेती को नहीं कर सकते है। अजवाइन के पौधों को अच्छे तरीके से विकास करने के लिए ठंडी जलवायु की जरुरत होती है। लेकिन फूलों के बीजों को पकने के दौरान इसके पौधों को गर्म जलवायु की जरुरत होती है तथा इसके लिए खुली धूप आवश्यक होती है।

अजवाइन के बीजों की बुवाई और पौधों की रोपाई कैसे करते है?

अजवाइन की फसल की रोपाई बीज और पौधे लगाकर दोनों ही तरीके से कर सकते हैं। अजवाइन के पौधों की खेत में रोपाई करने के लिए पौधों को नर्सरी में एक महीने पहले ही तैयार कर लेते है। अजवाइन के बीजों की बुवाई करना चाहते हैं तो बुवाई से पहले बीजों को बाविस्टीन की सही मात्रा से उपचारित कर लेना जरुरी है। इसके बाद इसके बीजों की खेत में बुवाई करना जरुरी है।

Read More: Tridha Chaudhary: आश्रम वेब सीरीज की बबिता का हॉटनेस और फिटनेस से भरा लुक देख छूट जाएंगे आपके पसीने, देखें कुछ खास तस्वीरें

अजवाइन की कटाई कैसे की जाती है?

अजवाइन के पौधे की रोपाई के करीब 140 से 160 दिन बाद फसल काटने के लिए तैयार होती है। अजवाइन के पौधों में लगने वाले गुच्छे पकने के बाद भूरे रंग के दिखाई पड़ते हैं। अजवाइन के पौधों की कटाई कर इनको खेत में इकट्ठा करके अच्छे से सूखा लेते है। अजवाइन के जब दाने अच्छे से सूख जाते तब इन गुच्छों को लकड़ी की डंडी से पीटकर दानों को अलग कर देते है। अब ये बेचने के लिए तैयार है।

अजवाइन की खेती से कितना मुनाफा होगा

अजवाइन की किस्मों के मुताबिक प्रति एकड़ औसतन 10 क्विंटल तक का उत्पादन आसानी से प्राप्त हो सकता है। अजवाइन का बाजार में भाव 12 हजार रुपए से 20 हजार रुपए प्रति क्विंटल तक मिलता है। एक एकड़ के अजवाइन की फसल की खेती करके सवा दो लाख रुपए तक की कमाई आसानी से कर सकते हैं। अजवाइन की खेती से आप तगड़ा मुनाफा कमा सकते है।

Leave a Comment