Aloe Vera Cultivation: एलोवेरा की खेती बन सकती है किसानों के किस्मत के बंद ताले की चाबी, इसके जरिए किसान हो सकते है मालामाल

Aloe Vera Cultivation:- एलोवेरा की खेती बन सकती है किसानों के किस्मत के बंद ताले की चाबी, इसके जरिए किसान हो सकते है मालामाल, एलोवेरा की खेती करने से बड़ा फ़ायदा होता है ऐसा इसलिए क्योकि इससे बहुत सारे प्रोडक्ट तैयार किए जाते है इसकी मार्किट में अच्छी खासी डिमांड में है और वहीं, एलोवेरा की खेती के लिए उपजाऊ मिट्टी की आवश्यकता होती है। इसके अलावा, इसे पहाड़ी और बलुई दोमट मिट्टी में भी उगाया जाता है। एलोवेरा की उन्नत किस्में, खेती के लिए उपयुक्त मिट्टी, जलवायु, बुवाई और कटाई के सही समय के बारे में जानते हैं। आइए जानकारी विस्तार से जानते है।

सही मिटटी और जलवायु

एलोवेरा की खेती के लिए सही मिटटी और जलवायु की आवश्यकता होती है ताकि इसकी फसल को कर सके और एलोवेरा की खेती के लिए अच्छी मिट्टी की आवश्यकता होती है। इसके पौधे को लगाने के लिए गहरे गहरे गड्ढे को खोदा जाता है और फिर उसमे उन पोधो को लगाया जाता है और इसके अलावा इसे पहाड़ी और बलुई दोमट मिट्टी में भी उगा सकते है। एलोवेरा की फसल को खेत में लगाने से पहले उसके खेत को अच्छी तरह से तैयार कर लेना चाहिए। इसके अलावा इसकी खेती में भूमि का पीएच मान 8.5 तक होना आवश्यक होता है। इससे अच्छी कमाई की जा सकती है।

Read More: Hasan Ali’s Wife: पाकिस्तान के दबंग गेंदबाज हसन अली की पत्नी है क़यामत की खूबसूरत, बिखरी हुई जुल्फों और खूबसूरती से बनाती है सबको दीवाना

एलोवेरा के पौधे की खेती कब की जाती है?

एलोवेरा की खेती लिए सबसे अच्छा समय जुलाई और अगस्त के महीने में होता है ऐसा इलसिए क्योकि इस महीने में लगाने से फसल अच्छी होती है। इस खेती को सर्दियों के महीनो को छोड़कर कभी भी की लगाई जाती है। इसके पोधो को नर्सली से ख़रीदकर लाये तो वह पौधा कम से कम पुराना होना चाहिए जिसमे एक या दो पत्तिया होनी चाहिए जिससे उसे लगाने में आसानी हो और लग सके और रोपाई के दौरान एलोवेरा के पौधों के बीच में 40-45 सेमी की दूरी अवश्य रखें। दरअसल, पौधों को दूरी पर लगाने से पत्तियों के तैयार होने पर उनकी तुड़ाई करने में आसानी होती है। इस समय खेती करके आप अच्छी कमाई कर सकते है।

Read More: TATA Sumo 2024: बाहुबली वाली ताक़त के साथ New Tata Sumo मार्केट में दे रही दस्तक, धाकड़ फीचर्स के साथ मिलेगा कंटाप लुक

देखे एलोवेरा की कटाई और पैदावार

एलोवेरा के पौधे की रोपाई करने के बाद में लगभग इसे लगने में 9 से 10 महीने लगते है। फिर इसके बाद इसकी कटाई की जाती है और अगर आपके खेतो की मिटटी कम उपजाऊ हो तो उस फसल को पकने में लगभग 10 से 12 महीने लगते है। इस फसल की कटाई दो बार होती है। एक एकड़ के खेत में लगभग 11,000 से ज्यादा पौधों को लगा सकते है, इससे आपको 20 से 25 टन की पैदावार प्राप्त होती है।

Leave a Comment